Join Group☝️

होम

उत्तराखंड में वैज्ञानिकों ने जारी किया है बड़े विनाश का अलर्ट , 2 महीने के भीतर 16 बार काँपी धरती

हाल के दिनों देश के कई जगहों पर भूकंप के झटके महसूस किये जा रहे हैं , देवभूमि के भी कई इलाकों में भकंप के झटके महसूस किये जा रहे हैं . 22 मार्च मंगलवार रात भी उत्तराखंड में भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए।

मगलवार करीब रात 10 बजकर 21 मिनट पर जमीन जोर से हिली। इससे डरे सहमे लोग घरों से बाहर निकल आए। भूकंप का केंद्र अफगानिस्तान में था, इसलिए उत्तराखंड में अभी तक किसी तरह के नुकसान की सूचना नहीं है। हालांकि, देर रात आए भूकंप से कई लोग दहशत में आ गए। सभी सुरक्षित स्थान की तलाश में इधर-उधर भागने लगे।।

उत्तराखंड में वैज्ञानिकों ने जारी किया है बड़े विनाश का अलर्ट , 2 महीने के भीतर 16 बार काँपी धरती

 

उत्तराखंड में पिछले दो महीनों में भूकंप के 16 झटके आ चुके हैं। वैज्ञानिकों को चिंता है कि उत्तराखंड में एक और बड़ा भूकंप आने वाला है। यहां तक ​​कि बीती रात का भूकंप भी वहां महसूस किया गया था।

उत्तराखंड में वैज्ञानिकों ने जारी किया है बड़े विनाश का अलर्ट , 2 महीने के भीतर 16 बार काँपी धरती

रात 10 बजकर 21 मिनट पर पर्यटन नगरी मसूरी में भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए। वहां लोग अपने रिश्तेदारों को फोन करके पूछते देखे गए कि क्या वे ठीक हैं। कुछ लोगों ने कहा कि झटके के कारण किचन में बर्तन गिर गए, कमरे में लगे पंखे हिलने लगे और बेसमेंट में रखा सामान भी नीचे गिर गया.

उत्तराखंड में वैज्ञानिकों ने जारी किया है बड़े विनाश का अलर्ट , 2 महीने के भीतर 16 बार काँपी धरती

 

 

 

पूरे उत्तराखंड में भूकंप के झटके महसूस किए जा रहे हैं. होली  और इससे पहले 5 मार्च और 20 जनवरी को भूकंप आया था। पिथौरागढ़ में 22 जनवरी को एक बड़ा भूकंप आया था।

उत्तराखंड में वैज्ञानिकों ने जारी किया है बड़े विनाश का अलर्ट , 2 महीने के भीतर 16 बार काँपी धरती

 

उत्तराखंड में आए दिन भूकंप के झटके आ रहे हैं। इससे पहले 5 मार्च को उत्तरकाशी में 2.5 और 1.8 तीव्रता के भूकंप के झटके महसूस किए गए थे। देहरादून में 20 जनवरी को 2.8 तीव्रता का भूकंप महसूस किया गया था. पिथौरागढ़ में 22 जनवरी को 3.8 तीव्रता का भूकंप महसूस किया गया था.

उत्तराखंड में वैज्ञानिकों ने जारी किया है बड़े विनाश का अलर्ट , 2 महीने के भीतर 16 बार काँपी धरती

देश के अलग-अलग हिस्सों में लोग भूकंप के झटकों को काफी महसूस करते हैं। रुद्रप्रयाग, चमोली, देहरादून, हरिद्वार, कोटद्वार, उत्तरकाशी और रुड़की में लोगों ने भी झटके महसूस किए। हालांकि, यह स्पष्ट नहीं है कि भूकंप के कारण कोई नुकसान नहीं हुआ है या ।

Advertisement
Back to top button
दून की शैफाली ने होम डेकॉर को दिया नया रूप , देखकर बन जायगा आपका दिन उत्तराखंड के इस अद्भुत मंदिर में पातालमुखी हैं शिवलिंग,यही माता सती ने त्यागे थे प्राण इस मतलबी दुनिया में ये बैंक भर रहा है भूखे,असहाय लोगों का पेट , हल्दवानी के इस बैंक को आप भी कीजिये सलाम सिलबट्टे को पहाड़ी महिलाओं ने बनाया स्वरोजगार , दिया खाने में देशी स्वाद का तड़का श्री नानकमत्ता साहिब गुरुद्वारा है सिखों का तीसरा सबसे पवित्र तीर्थ स्थल, जानिए क्या इसकी खासियत